Homeनेशनलविदेशी राजदूतों और राजनयिकों के आने से सरिस्का का बढ़ेगा पर्यटन और...

विदेशी राजदूतों और राजनयिकों के आने से सरिस्का का बढ़ेगा पर्यटन और खैरथल को मिलेगी अंतर्राष्ट्रीय पहचान – राम यादव

- Advertisement -spot_img

स्नेह फाउंडेशन के राम यादव ने अलवर जिले के लिए किया ऐतिहासिक अंतर्राष्ट्रीय कार्यक्रम | विदेशी राजदूतों और राजनयिकों के आने से सरिस्का टाइगर रिजर्व में पर्यटकों का रुझान बढ़ेगा और खैरथल में आयोजित होली मिलन समारोह में भी विदेशी दल के आने से खैरथल को अंतर्राष्ट्रीय पहचान मिलेगी यह कहना है स्नेह फाउंडेशन के संस्थापक राम यादव का । राम यादव ने कहा कि अलवर जिले में पर्यटन और रोजगार के सुनहरे अवसर है और विदेशी राजनयिकों के दल के आने से निश्चित रूप से इसे काफी प्रोत्साहन मिलेगा ।

आपको बता दें कि स्नेह फाउंडेशन के संस्थापक राम यादव द्वारा अलवर जिले के लिए दो दिवसीय ऐतिहासिक अंतर्राष्ट्रीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया । राम यादव ने बताया कि 8 देशों के राजदूतों और राजनयिकों का दल दो दिवसीय यात्रा पर अलवर जिले में आया । विदेशी दल ने विश्व वन्यजीव दिवस के अवसर पर सरिस्का टाइगर रिजर्व का भ्रमण किया । सरिस्का टाइगर रिजर्व में भ्रमण के दौरान विदेशी प्रतिनिधि मंडल को काला कुंआ में पानी के एनिकट पर टाइगर एसटी 9 और एसटी 21 की साइटिंग हुई , जिसको देख कर सभी काफी रोमांचित हो गए । लगभग 10 से 15 मिनट की साइटिंग के बाद टाइगर झाड़ियों में चले गए । सरिस्का भ्रमण के दौरान विदेशी मेहमानों को चीतल व सांभर के झुंड सहित हिरण , मगरमच्छ , जंगली खरगोश , जंगली सूअर सहित कई विभिन्न प्रजातियों के पक्षी भी सरिस्का के जंगल में देखने को मिलें । 

सरिस्का टाइगर रिजर्व पहुंचने पर विदेशी प्रतिनिधि मंडल का सरिस्का डीएफओ देवेंद्र प्रताप जागावत , रेंजर जितेंद्र चौधरी ने तिलक कर और माला व हैट पहनाकर स्वागत किया ।

विदेशी प्रतिनिधि मंडल ने सरिस्का से अलवर जाते समय कन्हैया स्वीट्स पर अलवर के मिल्क केक और कढ़ी कचौरी का आनंद लिया और उसकी जमकर तारीफ की । कन्हैया स्वीट्स के सीताराम सैनी ने इस अवसर पर सभी का स्वागत किया ।

वहीं अलवर के अलवर मोटल में डिनर के अवसर पर अलवर जिले के वाइल्ड लाइफ पर अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन किया गया , जिसे अलवर डीएफओ अपूर्व कृष्ण श्रीवास्तव , समारोह की अध्यक्षता कर रहे निर्मोही अखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी श्रीपद्मनाभ शरण देवाचार्य महाराज और आयोजक राम यादव ने संबोधित किया । 

संगोष्ठी में विदेशी दल ने सरिस्का टाइगर रिजर्व में अपनी यात्रा के दौरान टाइगर साइटिंग को अपनी जिंदगी का ऐतिहासिक पल बताया और अलवर जिला प्रशासन , सरिस्का प्रशासन व वन विभाग को अच्छे प्रबंधन के लिए बधाई दी । विदेशी दल ने कहा कि सरिस्का टाइगर रिजर्व दिल्ली के बहुत नजदीक है और इसमें पर्यटन की काफी संभावनाएं हैं । विदेशी दल ने सरिस्का टाइगर रिजर्व की बेहतरीन सफारी के आयोजन के लिए राम यादव का धन्यवाद किया ।  

वहीं अगले दिन अलवर जिले के खैरथल में होली मिलन समारोह का ऐतिहासिक अंतर्राष्ट्रीय कार्यक्रम का आयोजन स्नेह फाउंडेशन द्वारा सुंदरम गार्डन में हुआ , जिसमें 7 देशों के राजदूतों और राजनयिकों ने फूलों से होली खेली । खैरथल में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय होली मिलन समारोह में फेमस सिंगर मन सिंह और गोरा सिंह ने अपने बैंड की लाइव परफॉर्मेंस पर सभी को झूमने पर मजबूर कर दिया । 

कार्यक्रम में आए सभी विदेशी अतिथियों का स्नेह फाउंडेशन के संस्थापक राम यादव ने माला पहनाकर , साफा बांधकर और स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मान किया । 

कार्यक्रम में विदेशी मेहमानों ने भारतीय संस्कृति को महान बताया और होली के इंटरनेशनल कार्यक्रम के अयोजन के लिए आयोजक राम यादव को धन्यवाद दिया । 

इस अवसर पर आयोजक राम यादव ने कहा कि खैरथल में हुए इस अंतराष्ट्रीय कार्यक्रम से भारतीय संस्कृति का प्रचार विदेशों तक होगा और सभी देशों के नागरिकों में आपसी प्रेम बढ़ेगा । राम ने कहा कि होली प्रेम का प्रतीक है और हमारे देश का तो विश्व बंधुत्व में ही शुरू से विश्वास रहा है । 

इस अवसर पर अभिनेत्री रितु मीणा का भी सम्मान किया गया । इससे पूर्व विदेशी मेहमानों के आगमन पर किशनगढ़ बास से खैरथल तक आधा दर्जन जगह पर माला पहनाकर और ढोल बाजे के साथ लोगों ने स्वागत किया ।

इस अवसर पर विप्र फाउंडेशन खैरथल के अध्यक्ष मोहन शर्मा , विश्वविख्यात फोटोग्राफर अनिल गाबा , जीटीटीसीआई अध्यक्ष गौरव गुप्ता , एसएमई बिज के सीईओ जितेंद्र चावला , विष्णु चावड़ा , राजेश सिद्ध और मोहित लालवानी आदि मौजूद रहे । 

अलवर जिले की यात्रा में विश्व के 5 महाद्वीपों ओशिनिया (ऑस्ट्रेलिया) , अफ्रीका , दक्षिण अमेरिका , एशिया और उत्तर अमेरिका के विभिन्न 8 देशों के राजदूतों और राजनयिक शामिल रहे । जिनमें पापुआ न्यू गिनी देश के उच्चायुक्त महामहिम पाउलियास कोर्नी ओबे , कोटे डी आइवर देश के राजदूत महामहिम एम. एनडीआरवाई एरिक केमिली , त्रिनिदाद एंड टोबैगो देश के उच्चायुक्त महामहिम डॉ रोजर गोपाल , मेडागास्कर देश के उप राजदूत रैंडियनारिवोनी टसीऑरी , लेबनान देश के उप राजदूत जियाद कौसा , चिली देश की ट्रेड कमिश्नर मार्सेला जुनिगा एलेग्रिया , अल सल्वाडोर देश के दूतावास के आर्थिक सलाहकार स्टीवन एंटोनियो रामिरेज क्यूएलर और दक्षिण कोरिया दूतावास की सीनियर रिसर्चर अर्थशास्त्री जुंगवा किम शामिल रहे ।

- Advertisement -spot_img
- Advertisement -spot_img
Stay Connected
16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe
Must Read
- Advertisement -spot_img
Related News
- Advertisement -spot_img